कोलंबिया एशिया अस्पताल पटियाला में डॉ. निति कपूर ने न्यूरोलॉजी विभाग में संभाला कार्यभार

पटियाला 10 सितम्बर, कोलंबिया एशिया अस्पताल में डॉ. निति कपूर ने बतौर कंसलटेंट न्यूरोलॉजी के रूप में कार्यभार संभाला हैI कोलंबिया एशिया अस्पताल के जनरल मैनेजर श्री गुरकीरत सिंह ने बताया डॉ.निति कपूर ने अपनी ऍम. बी. बी. एस. दयानन्द मेडिकल कॉलेज, लुधियाना और एम् डी मेडिसिन गवर्नमेंट मेडिकल कॉलेज, पटियाला से की है। इसके पष्चात उन्होंने अपनी डी एम् न्यूरोलॉजी की पढ़ाई एस ऍन मेडिकल कॉलेज, जोधपुर से समाप्त की है। डॉ निति कपूर को मोहाली तथा गुरुग्राम जैसे शहरों के हॉस्पिटल्स में काम करने का अच्छा अनुभव हैं। डॉ. निति कपूर हर तरह के दिमाग एवं नसों के रोग जैसे की स्ट्रोक, एपिलेप्सी, सरदर्द और कई तरह के दिमागी इन्फेक्शन्स के उपचार में माहिर है और कोलंबिया एशिया अस्पताल में हर दिन सुबह 9 बजे से शाम 2 बजे तक उपलब्ध रहती हैंI 

जीडीपी में सबसे बड़ी गिरावट

नई दिल्ली (तेज समाचार डेस्क)इन्फोसिस के को-फाउंडर एन.आर. #नारायणूर्ति ने आशंका जातई है कि कोरोना की वजह से इस साल भारत की जीडीपी में आजादी के बाद की सबसे बड़ी गिरावट आ सकती है। जाहिर है कि इसके पहले तमाम रेटिंग एजेंसियों ने आशंका जताई है कि कोरोना संकट के कारण भारत की जीडीपी में 3 से 9 फीसदी तक की गिरावट आएगी। रेटिंग एजेंसी फिच रेटिंग्स ने कहा है कि कोरोना की वजह से वित्त वर्ष 2020-21 में भारतीय #अर्थव्यवस्था में पांच फीसदी की गिरावट आएगी दूसरी तरफ, रेटिंग एजेंसी क्रिसिल ने चेतावनी दी है कि भारत में आजादी के बाद चौथी मंदी आने वाली है और यह अब तक की सबसे भयानक मंदी होगी। खुद भारतीय रिजर्व बैंक ने इस बात को स्वीकार किया है कि इस साल जीडीपी भारी गिरावट आएगी। नारायणमूर्ति ने मंगलवार को आशंका जताई की कोरोना के चलते इस वित्त वर्ष में देश की आर्थिक गति आजादी के बाद सबसे खराब स्थिति में होगी। न्यूज एजेंसी पीटीआई के मुताबिक उन्होंने कहा, ‘अर्थव्यवस्था को जल्द से जल्द पटरी पर लाया जाना चाहिए। इस बार सकल घरेलू उत्पाद (GDP) में आजादी के बाद के सबसे बड़ी गिरावट दिख सकती है।नारायण मूर्ति ने ऐसी एक नई प्रणाली विकसित करने पर भी जोर दिया जिसमें देश की अर्थव्यवस्था के हर क्षेत्र में प्रत्येक कारोबारी को पूरी क्षमता के साथ काम करने की अनुमति हो। उन्होंने कहा, ‘भारत की GDP में कम से कम पांच फीसदी गिरावट का अनुमान लगाया जा रहा है।ऐसी आशंका है कि हम 1947 की आजादी के बाद की सबसे बुरी GDP वृद्धि (नेगेटिव) देख सकते

Browse for the best shopping experience with Savi app browser

Web browsing is more like a game, you get what you want or just scroll endlessly through plethora of links on google for nothing. But when it comes to browsing to shop, there stands among the other apps, an app called Savi browser app. It delivers the best shopping experience with thousands of product categories waiting to be explored. Who knows? you might end up finding a gem of a product you have been eyeing for a while or for a longer period of time for that matter.

You save a lot on shopping with this app while it lets you search through worldwide merchants of India, US, Canada, UK and Australia. If you are eyeing a product from one of the mentioned countries, it is very likely that you can find the product on Savi app browser. The link to download and install the browser is https://play.google.com/store/apps/details?id=com.wSAVI_8355675&hl=en

The small browser size which is mere 15 MB will let you work with a breeze without any memory hassles, though today the phone memories are cheaper, but for those initiated to save memory space, the Savi app browser would just be fine. So, let the shopping bug in you explore the international marketplace with Savi browser.

कोलंबिया एशिया अस्पताल पटियाला में दूरबीन द्वारा आंत के छेद का सफल ऑप्रेशन

Dr. Pankaj Kumar Garg

पटियाला 21 जुलाई, कोलंबिया एशिया अस्पताल पटियाला मैं 85 साल की एक बृद्ध महिला जो की शुगर एवं रक्तचाप की बीमारी की मरीज़ थी एवं उनकी छोटी आंत का एक हिस्सा फट गया था जिसकी बजह से उनको जान का खतरा बन गया था उनका डॉ  पंकज गर्ग ने दूरबीन द्वारा सफल ऑप्रेशन किया I डॉ पंकज गर्ग कंसलटेंट जनरल एवं लप्रोस्कोपिक सर्जरी कोलंबिया एशिया अस्पताल पटिआला ने बताया की आम तौर पर ऐसे मरीज़ों में यह ऑप्रेशन पेट पर बड़ा चीरा लगा कर किया जाता है और मरीज़ 8 से 10 दिन तक अस्पताल में भर्ती रहता हैI  कोलंबिया एशिया अस्पताल के माहिर डॉ पंकज गर्ग और उनकी टीम ने दूरबीन (लैप्रोस्कोपी) द्वारा ही इसका सफल ऑप्रेशन किया, इससे मरीज़ के पेट पर एक बड़े चीरे की जगह 4 छोटे छोटे छेद से ही ऑप्रेशन संभव हो सका I

उन्होंने बताया की मरीज़ दूसरे दिन ही खाने-पीने लगा और मरीज़ को चौथे दिन ही अस्पताल से छुट्टी भी कर दी गयी I उन्होंने ने ये भी बताया की लप्रोस्कोपिक तकनीक से सर्जरी के मरीज़ को और कई फायदे जैसे की शीग्र रिकवरी और अस्पताल से जल्दी छुट्टी आदि हैं। उन्होंने बताया की पटियाला ज़िले में इस तरह के सफल ऑप्रेशन का सम्बभता यह पहला मामला हैI डॉ पंकज गर्ग दूरबीन द्वारा सर्जरी और बरिएट्रिक सर्जरी के माहिर हैं और कोलंबिया एशिया में पिछले काफी समय से बतौर कंसलटेंट बरिएट्रिक लप्रोस्कोपिक सर्जरी काम कर रहे हैंI इससे पहले डॉ पंकज गर्ग दिल्ली के कई नामी अस्पतालों में काम कर चुके हैंI

कोलंबिया एशिया अस्पताल पटियाला में बर्न यूनिट की शुरुआत


डॉ दिनकर सूद कंसलटेंट प्लास्टिक, रिकंस्ट्रक्टिव  एवं कॉस्मेटिक सर्जरी

पटियाला 18 जुलाई, कोलंबिया एशिया अस्पताल पटियाला ने अपनी 11 साल से समाज सेवा की बचनबद्धता के तहत प्लास्टिक सर्जरी विभाग के अंतर्गत एक स्पेशल बर्न यूनिट की शुरुआत की जिसमें की जले हुए मरीज़ों का इलाज़ हो सकेगा ! डॉ दिनकर सूद कंसलटेंट प्लास्टिक, रिकंस्ट्रक्टिव  एवं कॉस्मेटिक सर्जरी कोलंबिया एशिया अस्पताल पटिआला ने बताया की जले हुए मरीज़ों की भी दूसरे एक्सीडेंट और ट्रामा मरीज़ों की तरह कुछ अति आबश्यक ज़रूरतें होती हैं जिनका की शीग्रता से समाधान होना चाहिएI कोलंबिया एशिया पटियाला का बर्न यूनिट हर तरह के जले हुए मरीज़ों को बढ़िया इलाज़ प्रदान करेगा I  डॉ दिनकर ने बताया की हर दो घंटे और इकतालीस मिनट में 1 नागरिक की जलने से मौत होत्ती है और हर 1442 मरीज़ों में से 1 के आग, बिजली, रासायनिक पदार्थों से जलने के पूरी संभावना रहती है I मरीज़ को जलने के शुरुआती घंटो में जो इलाज़ मिलता है उस पर मरीज़ की रिकवरी और निष्कर्ष काफी हद तक निर्भर करता है I जलने के रिस्क का अनुमान जली हुई त्वचा के घनत्व या उसकी गहराई पर निर्भर करता है I कोलंबिया एशिया अस्पताल का ये बर्न यूनिट और अति अनुभवी स्टाफ जले हुए मरीज़ो को उत्तम सुविधा प्रदान करेगा I इस मौके पर डॉ दिनकर सूद के इलावा कोलंबिया एशिया अस्पताल पटिआला की जनरल मैनेजर श्री गुरकीरत सिंह भी मौजूद रहे I उन्होने ने बताया कि कोलंबिया एशिया अस्पताल का यह बर्न यूनिट इलाके का पहला ऐसा यूनिट है जो इलाके के अलग अलग प्रकार से जले हुए मरीज़ों को इलाज़ प्रदान करेगा जो कि पहले इलाज के लिए जिले से बाहर जाते थे I

Live Hindi Press Release

सार्वजनिक बयानों को लक्ष्य उपक्रमों के लिए लेबल किया जाता है ताकि वे सही भीड़ से संपर्क करें। वर्गीकरण में कार, डिजाइन और जीवन का तरीका, मीडिया और मनोरंजन, यात्रा, बीएफएसआई, प्रशिक्षण, भलाई और फार्मा, आवास, जीवन शक्ति, स्थिति, सामाजिक, वेब आधारित व्यवसाय और कुछ और शामिल हैं। अब आप हिंदी भाषा में लाइव प्रेस विज्ञप्ति पढ़ सकते हैं।

Find Job anywhere in the World!

I know nowadays, it is very difficult to find right job. So we have discovered a new system to find right job here. We shall give you access to a page, where, maximum latest 10 jobs will be displayed. Jobs can be from direct original job listing website (company websites, recruitment agencies, newspapers, etc.). You can find 10 latest jobs and apply it instantly. We can also filter the jobs with keyword and city.

How to apply?

Register with our Club and speak to our representative or contributor to approve your account. Once approved, you can chat with @paazy. Once you have paid the fee, you will receive a code at email or whatsapp to access the page.

Which city or country candidate can apply?

Candidate can apply from anywhere in the world.

How much it cost?

We are charging minimum $3 per month? So you only pay $0.1 for a day. You can pay with PayPal and UPI(India).

Chander Gaind,known as Public DC, takes over charge as Commissioner Patiala Division

Patiala, July 3, 2020:

2004 batch Senior IAS Officer Chandra Gaind today assumed charge as Divisional Commissioner, Patiala Division. He was earlier serving as the Secretary, Department of Animal Husbandry, Dairy Development and Fisheries, Punjab and some time ago he was posted as Deputy Commissioner, Ferozepur.

On his arrival at District Administrative Complex, Patiala, Deputy Commissioner Kumar Amit,  SSP Mandeep Singh Sidhu, Additional Deputy Commissioner Mrs. Pooja Sial Grewal, SDM Dr. Charanjit Singh, Assistant Commissioner (G) Ismat Vijay Singh,  Assistant Commissioner (UT) Mr. Jagnoor Singh Grewal and Miss Jasleen Kaur and other officials, welcomed Chander Gaind, Divisional Commissioner.

On the occasion, a contingent of police saluted Gaind with a guard of honor.

After assuming office, Gaind held a brief meeting with the DC and other officers and directed all the officers to implement the policies and programs of the government in a coordinated manner.

Gaind said  his priority would be to give timely justice to all the people who come to seek justice without any delay, including drawing up new programs related to the people and taking decisions in the public interest. He said , the development programs would be expedited besides closely monitoring the quality of work.

Gaind said that Patiala district being the home district of Chief Minister Capt. Amarinder Singh and Lok Sabha Member Mrs. Preneet Kaur, the responsibility of the district officers become more and the government programs attached to the people and implementing of the policies, at the grassroots level will be their top priority.

 Speaking on Covid-19, Gaind appealed to the people to wear masks, follow the precaution of hand washing and maintaining social distancing as only then we will be able to make the Mission Fateh launched by the Chief Minister Capt. Amarinder Singh, success with the cooperation of the people.

 After assuming his post as Divisional Commissioner, Chander Gaind along with his wife Dr. Richa Gaind and other family members, also paid obeisance at the local historical Gurdwara Sri Dukh Niwaran Sahib and the ancient temple Sri Kali Devi and prayed for the welfare of all.

Giani Pranam Singh, Head Granthi of Gurdwara Sahib at Gurdwara Dukh Niwaran Sahib presented Siropas to Divisional Commissioner Chander Gaind and family members while he was also felicitated at Temple Sri Kali Devi.  After this,  Gaind also visited the Gaushala of Municipal Corporation on Sanour Road where he was felicitated by Anish Mangla, President of Radha Krishna Gaou Sewa Samiti who is managing the affairs of Gaushala.

It may be recalled that Chandra Gaind as Deputy Commissioner of Ferozepur has many distinctions to his credit. He was the first DC to travel y train to play tributes to Shaheed Bhagat Singh Rajguru and Sukhdev at Hussainiwala Martyrs Memorial.  He took unique steps and took decisions which were highly appreciated by the people from all walks of life. Gaind had appointed Anmol Beri, a 15-year-old girl suffering from locomotor disease, as DC for one day and also appointed Anmol as the brand ambassador for Beti Bachao-Beti Padhao campaign in Ferozepur district.

Similarly, Gaind took an important and unique decision for the success of the Ghar Ghar Haryalee mission launched by the Chief Minister Capt. Amarinder Singh in the district.   He also introduced Gun for Plants making in mandatory to plant and taking care of 10 saplings for the aspirants to get ammunition license in the district. Under this programme, the arm licensee candidate should bring 10 saplings before taking application and take care of these saplings and attach their progress with his application by taking selfies.   It was only after this that the file of the aspirant for the ammunition license was forwarded, which is still applicable in Ferozepur district.

After restoring the ownership of the house to an old lady, saying in his own words “I am just like your son and look after you” and by putting a notice outside his office and residence – ‘No gifts on Diwali, only Blessings’ made him more popular among the people as Public DC.

While assuming the office of Chandra Gaind, the entire staff of Divisional Commissioner office including Tehsildar Ranjit Singh and Naib Tehsildar  Pawandeep Singh, were present.

Read in Hindi

2004 बैंच के आई.ए.एस. अधिकारी चंद्र गेंद ने पटियाला के डिविज़नल कमिशनर के तौर पर पदभार संभाला

 -जनहित के फैसले लेने समेत कई लोक कल्याणकारी योजनाएं तैयार की जाएंगीः गैंद

 -कहा, विकास कामों में तेज़ी लाने के लिए कई तरह की योजनाओं को दी जाएगी प्राथमिकता

 – आधिकारियों को आपसी तालमेल के जरिए मुख्यमंत्री की तरफ से बनाए कार्यक्रमों और स्कीमों को लोगों तक पहुंचाने के निर्देश दिए

 पटियाला, 3 जुलाई:

2004 बैंच के सीनियर आई.ए.एस. अधिकारी श्री चन्द्र गेंद ने शुक्रवार को पटियाला डिविज़न के डिविज़नल कमिशनर के तौर पर अपना कार्यभार संभाल लिया। श्री चन्द्र गेंद इससे पहले पशु पालन, डेयरी विकास और मछलीपालन विभाग पंजाब के सचिव के तौर पर सेवा निभा रहे थे और कुछ समय पहले वह फ़िरोज़पुर ज़िले में डिप्टी कमिशनर के तौर पर तैनात थे।

पटियाला के ज़िला प्रशासकीय कांपलैक्स में उनके आगमन पर डिप्टी कमिशनर श्री कुमार अमित, एस.एस.पी. श्री मनदीप सिंह सिद्धू,  अतिरिक्त डिप्टी कमिशनर श्रीमती पूजा सियाल ग्रेवाल, एस.डी.एम. स. चरनजीत सिंह, सहायक कमिशनर डा. इस्मत विजय सिंह, सहायक कमिशनर (यू.टी.) स. जगनूर सिंह ग्रेवाल और मिस जसलीन कौर व अन्य आधिकारियों ने श्री गैंद का पटियाला पहुंचने पर स्वागत किया। इस मौके पुलिस की टुकड़ी ने गार्ड आफ ऑनर के साथ श्री गेंद को सलामी दी।

बतौर कमिश्नर कार्यभाल संभालने के बाद श्री गेंद ने डिप्टी कमिशनर और अन्य आधिकारियों के साथ संक्षिप्त मीटिंग की और ज़िले के बारे जानकारी लेते हुए समूह आधिकारियों को आपसी तालमेल के साथ सरकार की नीतियों व प्रोग्रामों को बेहतर ढंग के साथ लागू करने का निर्देश दिया।

इस मौके श्री चन्द्र गैंद ने कहा कि पटियाला ज़िले के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिन्दर सिंह और लोकसभा मैंबर श्रीमती परनीत कौर का गृह ज़िला होने के कारण ज़िला आधिकारियों की ज़िम्मेदारी और भी ज़्यादा हो जाती है, इसलिए लोगों के साथ जुड़े सरकार के प्रोगरामों और नीतियों को निचले स्तर पर लागू करवाना उनकी प्राथमिक प्राथमिकता होगी।

श्री गैंद ने कहा कि लोगों के साथ जुड़े नये प्रोग्राम बनाने और लोकहित के फ़ैसले लेने समेत न्याय लेने आए हर व्यक्ति को बिना देरी के समय पर न्याय देना भी उन की प्राथमिकता होगी। उन्होंने कहा कि विकास कार्यों में और तेज़ी लाने और कार्यों की गुणवत्ता के लिए तीखी नज़र भी रखी जायेगी।

श्री गैंद ने कोविड-19 की बात करते हुए लोगों से अपील की कि वह मास्क डाल कर रखें,  सोशल डिस्टेंसिंग व हाथ धोने जैसे निर्देशों का पालन करें जिसमें मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिन्दर सिंह की तरफ से आरंभ किए मिशन फतह को लोगों के सहयोग के साथ सफल बना सकेंगे।

डिविज़नल कमिशनर के तौर पर अपना ओहदा संभालने के बाद श्री चन्द्र गेंद ने अपनी धर्म पत्नी डा. ऋचा गैंद और अन्य पारिवारिक सदस्यों समेत ऐतिहासिक गुरुद्वारा श्री दुख निवारण साहिब और पुरातन मंदिर श्री काली देवी में भी माथा टेका और सरबत के भले की अरदास की।

गुरुद्वारा दुख निवारण साहिब में गुरुद्वारा साहिब के हैड ग्रंथी ज्ञानी प्रणाम सिंह ने डिविज़नल कमिशनर श्री चन्द्र गेंद और पारिवारिक सदस्यों को सिरोपा भेंट किया जबकि मंदिर श्री काली देवी में भी श्री गैंद को सम्मानित किया गया। इसके बाद श्री गैंद नगर निगम की सनौर रोड पर स्थित गौशाला में भी गए और वहां इस गौशाला का प्रबंध देख रही श्री राधा कृष्ण गऊ सेवा समिति के प्रधान श्री अनीश मंगला की तरफ से उनका सम्मान किया गया।

ज़िक्रयोग्य है कि श्री चन्द्र गेंद ने फ़िरोज़पुर के डिप्टी कमिशनर रहते हुए कई ऐसे फैसले लिए, जिसके लिए उन्हें देशभर में लोग जानते हैं। उन्होंने लोकोमोटर बीमारी से प्रभावित एक 15 साल की लड़की अनमोल को एक दिन के लिए ज़िले का डिप्टी कमिशनर बनाया और साथ ही अनमोल को फ़िरोज़पुर ज़िले में बेटी बचाओ-बेटी पढ़ायो मुहिम के लिए ब्रांड अम्बैसडर भी नियुक्त किया।

इसी तरह श्री गेंद ने फिरोजपुर में मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिन्दर सिंह की तरफ से आरंभ किए मिशन घर -घर हरियाली की सफलता के लिए एक अहम और अनोखा फ़ैसला लेते हुए ज़िले में असला लाइसेंस लेने के चाहवानों के लिए 10 पौधे लगाने और उनकी संभाल करने का नियम बनाया था। इस नियम के तहत प्रार्थियों को अपने आवेदन के साथ दस पौधे लगाते हुए की तस्वीर भी साथ नत्थी करनी होती थी। इस फैसले की मु\ख्यमंत्री कैप्टन अमरेंदर सिंह ने भी प्रशंसा की थी। इस नियम के चलते जिले में लगातार पौधारोपण हो रहा है, जोकि अभी भी जारी है। इस मौके पर तहसीलदार रणजीत सिंह और नायब तहसीलदार पवनदीप सिंह समेत डिविज़नल कमिशनर दफ़्तर का समूह स्टाफ उपस्थित था।

Read in Punjabi

2004 ਬੈਚ ਦੇ ਆਈ.ਏ.ਐਸ. ਅਧਿਕਾਰੀ ਚੰਦਰ ਗੈਂਦ ਨੇ ਪਟਿਆਲਾ ਦੇ ਡਵੀਜਨਲ ਕਮਿਸ਼ਨਰ ਵਜੋਂ ਅਹੁਦਾ ਸੰਭਾਲਿਆ
-ਲੋਕਾਂ ਨਾਲ ਜੁੜੇ ਫੈਸਲੇ ਲੈਣ ਸਮੇਤ ਲੋਕ ਹਿੱਤਾਂ ਦੇ ਨਵੇਂ ਪ੍ਰੋਗਰਾਮ ਉਲੀਕੇ ਜਾਣਗੇ-ਚੰਦਰ ਗੈਂਦ
-ਵਿਕਾਸ ਕਾਰਜਾਂ ‘ਚ ਤੇਜੀ ਲਿਆਉਣ ਲਈ ਤਿੱਖੀ ਨਜ਼ਰ ਰੱਖਣੀ ਹੋਵੇਗੀ ਤਰਜੀਹ-ਚੰਦਰ ਗੈਂਦ
-ਸਮੂਹ ਅਧਿਕਾਰੀਆਂ ਨੂੰ ਆਪਸੀ ਤਾਲਮੇਲ ਨਾਲ ਮੁੱਖ ਮੰਤਰੀ ਵੱਲੋਂ ਉਲੀਕੇ ਪ੍ਰੋਗਰਾਮ ਤੇ ਸਕੀਮਾਂ ਲੋਕਾਂ ਤੱਕ ਪੁੱਜਦੀਆਂ ਕਰਨ ਦੀਆਂ ਹਦਾਇਤਾਂ
ਪਟਿਆਲਾ, 3 ਜੁਲਾਈ:
2004 ਬੈਚ ਦੇ ਸੀਨੀਅਰ ਆਈ.ਏ.ਐਸ. ਅਧਿਕਾਰੀ ਸ੍ਰੀ ਚੰਦਰ ਗੈਂਦ ਨੇ ਅੱਜ ਪਟਿਆਲਾ ਡਵੀਜਨ ਦੇ ਡਵੀਜ਼ਨਲ ਕਮਿਸ਼ਨਰ ਵਜੋਂ ਆਪਣਾ ਅਹੁਦਾ ਸੰਭਾਲ ਲਿਆ। ਸ੍ਰੀ ਚੰਦਰ ਗੈਂਦ ਇਸ ਤੋਂ ਪਹਿਲਾਂ ਪਸ਼ੂ ਪਾਲਣ, ਡੇਅਰੀ ਵਿਕਾਸ ਅਤੇ ਫਿਸ਼ਰੀਜ਼ ਵਿਭਾਗ ਪੰਜਾਬ ਦੇ ਸਕੱਤਰ ਵਜੋਂ ਸੇਵਾ ਨਿਭਾ ਰਹੇ ਸਨ ਅਤੇ ਕੁਝ ਸਮਾਂ ਪਹਿਲਾਂ ਉਹ ਫ਼ਿਰੋਜ਼ਪੁਰ ਜ਼ਿਲ੍ਹੇ ਵਿਖੇ ਡਿਪਟੀ ਕਮਿਸ਼ਨਰ ਵਜੋਂ ਤਾਇਨਾਤ ਸਨ।
ਪਟਿਆਲਾ ਦੇ ਜ਼ਿਲ੍ਹਾ ਪ੍ਰਬੰਧਕੀ ਕੰਪਲੈਕਸ ਵਿਖੇ ਉਨ੍ਹਾਂ ਦੀ ਆਮਦ ਮੌਕੇ ਡਿਪਟੀ ਕਮਿਸ਼ਨਰ ਸ੍ਰੀ ਕੁਮਾਰ ਅਮਿਤ, ਐਸ.ਐਸ.ਪੀ. ਸ. ਮਨਦੀਪ ਸਿੰਘ ਸਿੱਧੂ, ਵਧੀਕ ਡਿਪਟੀ ਕਮਿਸ਼ਨਰ ਸ੍ਰੀਮਤੀ ਪੂਜਾ ਸਿਆਲ ਗਰੇਵਾਲ, ਐਸ.ਡੀ.ਐਮ. ਸ. ਚਰਨਜੀਤ ਸਿੰਘ, ਸਹਾਇਕ ਕਮਿਸ਼ਨਰ (ਜ) ਡਾ. ਇਸਮਤ ਵਿਜੇ ਸਿੰਘ ਸਹਾਇਕ ਕਮਿਸ਼ਨਰ (ਯੂ.ਟੀ.) ਸ. ਜਗਨੂਰ ਸਿੰਘ ਗਰੇਵਾਲ ਤੇ ਮਿਸ ਜਸਲੀਨ ਕੌਰ ਅਤੇ ਹੋਰ ਅਧਿਕਾਰੀਆਂ ਨੇ ਸ੍ਰੀ ਗੈਂਦ ਦਾ ਸਵਾਗਤ ਕੀਤਾ। ਇਸ ਮੌਕੇ ਪੁਲਿਸ ਦੀ ਟੁਕੜੀ ਨੇ ਗਾਰਡ ਆਫ਼ ਆਨਰ ਨਾਲ ਸ੍ਰੀ ਗੈਂਦ ਨੂੰ ਸਲਾਮੀ ਦਿੱਤੀ।
ਅਹੁਦਾ ਸੰਭਾਲਣ ਮਗਰੋਂ ਸ੍ਰੀ ਗੈਂਦ ਨੇ ਡਿਪਟੀ ਕਮਿਸ਼ਨਰ ਅਤੇ ਹੋਰ ਅਧਿਕਾਰੀਆਂ ਨਾਲ ਸੰਖੇਪ ਮੀਟਿੰਗ ਕੀਤੀ ਅਤੇ ਜ਼ਿਲ੍ਹੇ ਬਾਰੇ ਜਾਣਕਾਰੀ ਲੈਂਦਿਆਂ ਸਮੂਹ ਅਧਿਕਾਰੀਆਂ ਨੂੰ ਆਪਸੀ ਤਾਲਮੇਲ ਨਾਲ ਸਰਕਾਰ ਦੀਆਂ ਨੀਤੀਆਂ ਅਤੇ ਪ੍ਰੋਗਰਾਮਾਂ ਨੂੰ ਬਿਹਤਰ ਢੰਗ ਨਾਲ ਲਾਗੂ ਕਰਨ ਦੇ ਆਦੇਸ਼ ਦਿੱਤੇ।
ਇਸ ਮੌਕੇ ਸ੍ਰੀ ਚੰਦਰ ਗੈਂਦ ਨੇ ਕਿਹਾ ਕਿ ਪਟਿਆਲਾ ਜ਼ਿਲ੍ਹਾ, ਮੁੱਖ ਮੰਤਰੀ ਕੈਪਟਨ ਅਮਰਿੰਦਰ ਸਿੰਘ ਅਤੇ ਲੋਕ ਸਭਾ ਮੈਂਬਰ ਸ੍ਰੀਮਤੀ ਪਰਨੀਤ ਕੌਰ ਦਾ ਜੱਦੀ ਜ਼ਿਲ੍ਹਾ ਹੋਣ ਕਰਕੇ ਜ਼ਿਲ੍ਹਾ ਅਧਿਕਾਰੀਆਂ ਦੀ ਜਿੰਮੇਵਾਰੀ ਹੋਰ ਵੀ ਜ਼ਿਆਦਾ ਹੋ ਜਾਂਦੀ ਹੈ, ਇਸ ਲਈ ਲੋਕਾਂ ਨਾਲ ਜੁੜੇ ਸਰਕਾਰ ਦੇ ਪ੍ਰੋਗਰਾਮਾਂ ਤੇ ਨੀਤੀਆਂ ਨੂੰ ਹੇਠਲੇ ਪੱਧਰ ‘ਤੇ ਲਾਗੂ ਕਰਵਾਉਣਾ ਉਨ੍ਹਾਂ ਦੀ ਮੁੱਢਲੀ ਤਰਜੀਹ ਹੋਵੇਗੀ।
ਸ੍ਰੀ ਗੈਂਦ ਨੇ ਕਿਹਾ ਕਿ ਲੋਕਾਂ ਨਾਲ ਜੁੜੇ ਨਵੇਂ ਪ੍ਰੋਗਰਾਮ ਉਲੀਕਣੇ ਅਤੇ ਲੋਕ ਹਿੱਤ ਦੇ ਫੈਸਲੇ ਲੈਣ ਸਮੇਤ ਨਿਆਂ ਲੈਣ ਆਏ ਹਰ ਵਿਅਕਤੀ ਨੂੰ ਬਿਨ੍ਹਾਂ ਦੇਰੀ ਤੋਂ ਸਮੇਂ ਸਿਰ ਨਿਆਂ ਦੇਣਾ ਵੀ ਉਨ੍ਹਾਂ ਦੀ ਤਰਜੀਹ ਹੋਵੇਗੀ। ਉਨ੍ਹਾਂ ਕਿਹਾ ਕਿ ਵਿਕਾਸ ਪ੍ਰੋਗਰਾਮਾਂ ਅਤੇ ਵਿਕਾਸ ਕਾਰਜਾਂ ‘ਚ ਹੋਰ ਤੇਜੀ ਲਿਆਉਣ ਤੇ ਕੰਮਾਂ ਦੀ ਗੁਣਵੱਤਾ ਲਈ ਤਿੱਖੀ ਨਜ਼ਰ ਵੀ ਰੱਖੀ ਜਾਵੇਗੀ।
ਸ੍ਰੀ ਗੈਂਦ ਨੇ ਕੋਵਿਡ-19 ਦੀ ਗੱਲ ਕਰਦਿਆਂ ਲੋਕਾਂ ਨੂੰ ਅਪੀਲ ਕੀਤੀ ਕਿ ਉਹ ਮਾਸਕ ਪਾ ਕੇ ਰੱਖਣ, ਆਪਸੀ ਦੂਰੀ ਤੇ ਹੱਥ ਧੋਣ ਦੇ ਇਹਤਿਆਤਾਂ ਦਾ ਪਾਲਣ ਕਰਨ ਤਾਂ ਹੀ ਅਸੀਂ ਮੁੱਖ ਮੰਤਰੀ ਕੈਪਟਨ ਅਮਰਿੰਦਰ ਸਿੰਘ ਵੱਲੋਂ ਅਰੰਭੇ ਮਿਸ਼ਨ ਫ਼ਤਿਹ ਨੂੰ ਲੋਕਾਂ ਦੇ ਸਹਿਯੋਗ ਨਾਲ ਸਫ਼ਲ ਬਣਾ ਸਕਾਂਗੇ।
ਡਵੀਜਨਲ ਕਮਿਸ਼ਨਰ ਵਜੋਂ ਆਪਣਾ ਅਹੁਦਾ ਸੰਭਾਲਣ ਤੋਂ ਬਾਅਦ ਸ੍ਰੀ ਚੰਦਰ ਗੈਂਦ ਨੇ ਆਪਣੀ ਧਰਮ ਪਤਨੀ ਡਾ. ਰਿਚਾ ਗੈਂਦ ਅਤੇ ਹੋਰ ਪਰਿਵਾਰਕ ਮੈਂਬਰਾਂ ਸਮੇਤ ਸਥਾਨਕ ਇਤਿਹਾਸਕ ਗੁਰਦੁਆਰਾ ਸ੍ਰੀ ਦੁੱਖ ਨਿਵਾਰਨ ਸਾਹਿਬ ਅਤੇ ਪੁਰਾਤਨ ਮੰਦਿਰ ਸ੍ਰੀ ਕਾਲੀ ਦੇਵੀ ਵਿਖੇ ਵੀ ਮੱਥਾ ਟੇਕਿਆ ਅਤੇ ਸਰਬੱਤ ਦੇ ਭਲੇ ਦੀ ਅਰਦਾਸ ਕੀਤੀ।
ਗੁਰਦੁਆਰਾ ਦੁੱਖ ਨਿਵਾਰਨ ਸਾਹਿਬ ਵਿਖੇ ਗੁਰਦੁਆਰਾ ਸਾਹਿਬ ਦੇ ਹੈਡ ਗ੍ਰੰਥੀ ਗਿਆਨੀ ਪ੍ਰਣਾਮ ਸਿੰਘ ਨੇ ਡਵੀਜਨਲ ਕਮਿਸ਼ਨਰ ਸ੍ਰੀ ਚੰਦਰ ਗੈਂਦ ਤੇ ਪਰਿਵਾਰਕ ਮੈਂਬਰਾਂ ਨੂੰ ਸਿਰੋਪਾਓ ਭੇਟ ਕੀਤਾ ਜਦੋਂ ਕਿ ਮੰਦਿਰ ਸ੍ਰੀ ਕਾਲੀ ਦੇਵੀ ਵਿਖੇ ਵੀ ਸ੍ਰੀ ਗੈਂਦ ਨੂੰ ਸਨਮਾਨਤ ਕੀਤਾ ਗਿਆ। ਇਸ ਤੋਂ ਬਾਅਦ ਸ੍ਰੀ ਗੈਂਦ ਨਗਰ ਨਿਗਮ ਦੀ ਸਨੌਰ ਰੋਡ ‘ਤੇ ਸਥਿਤ ਗਊਸ਼ਾਲਾ ਵਿਖੇ ਵੀ ਗਏ ਅਤੇ ਜਿੱਥੇ ਇਸ ਗਊਸ਼ਾਲਾ ਦਾ ਪ੍ਰਬੰਧ ਦੇਖ ਰਹੀ ਸ੍ਰੀ ਰਾਧਾ ਕ੍ਰਿਸ਼ਨ ਗਊ ਸੇਵਾ ਸਮਿਤੀ ਦੇ ਪ੍ਰਧਾਨ ਸ੍ਰੀ ਅਨੀਸ਼ ਮੰਗਲਾ ਵੱਲੋਂ ਉਨ੍ਹਾਂ ਦਾ ਸਨਮਾਨ ਕੀਤਾ ਗਿਆ।
ਜਿਕਰਯੋਗ ਹੈ ਕਿ ਸ੍ਰੀ ਚੰਦਰ ਗੈਂਦ ਨੇ ਫ਼ਿਰੋਜ਼ਪੁਰ ਦੇ ਡਿਪਟੀ ਕਮਿਸ਼ਨਰ ਹੁੰਦਿਆਂ ਅਨੋਖੀਆਂ ਪੈੜਾਂ ਪਾਈਆਂ ਅਤੇ ਨਿਵੇਕਲੇ ਫੈਸਲੇ ਲਏ, ਜ਼ਿਨ੍ਹਾਂ ਦੀ ਹਰ ਵਰਗ ਦੇ ਲੋਕਾਂ ਵੱਲੋਂ ਭਰਵੀਂ ਸ਼ਲਾਘਾ ਕੀਤੀ ਗਈ। ਸ੍ਰੀ ਗੈਂਦ ਨੇ ਲੋਕੋਮੋਟਰ ਬਿਮਾਰੀ ਤੋਂ ਪ੍ਰਭਾਵਤ ਇੱਕ 15 ਸਾਲਾ ਲੜਕੀ ਅਨਮੋਲ ਨੂੰ ਇੱਕ ਦਿਨ ਲਈ ਜ਼ਿਲ੍ਹੇ ਦਾ ਡਿਪਟੀ ਕਮਿਸ਼ਨਰ ਬਣਾਇਆ ਅਤੇ ਨਾਲ ਹੀ ਅਨਮੋਲ ਨੂੰ ਫ਼ਿਰੋਜ਼ਪੁਰ ਜ਼ਿਲ੍ਹੇ ‘ਚ ਬੇਟੀ ਬਚਾਓ-ਬੇਟੀ ਪੜ੍ਹਾਓ ਮੁਹਿੰਮ ਲਈ ਬ੍ਰਾਂਡ ਅੰਬੈਸਡਰ ਵੀ ਨਿਯੁਕਤ ਕੀਤਾ ਸੀ।
ਇਸੇ ਤਰ੍ਹਾਂ ਸ੍ਰੀ ਗੈਂਦ ਨੇ ਜ਼ਿਲ੍ਹੇ ‘ਚ ਮੁੱਖ ਮੰਤਰੀ ਕੈਪਟਨ ਅਮਰਿੰਦਰ ਸਿੰਘ ਵੱਲੋਂ ਅਰੰਭੇ ਮਿਸ਼ਨ ਘਰ-ਘਰ ਹਰਿਆਲੀ ਦੀ ਸਫ਼ਲਤਾ ਲਈ ਇੱਕ ਅਹਿਮ ਤੇ ਨਿਵੇਕਲਾ ਫੈਸਲਾ ਲੈਂਦਿਆਂ ਜ਼ਿਲ੍ਹੇ ਅੰਦਰ ਅਸਲਾ ਲਾਇਸੈਂਸ ਲੈਣ ਦੇ ਚਾਹਵਾਨਾਂ ਲਈ 10 ਬੂਟੇ ਲਗਾਉਣੇ ਤੇ ਉਨ੍ਹਾਂ ਦੀ ਸੰਭਾਲ ਕਰਨੀ ਲਾਜਮੀ ਕਰਾਰ ਦਿੱਤਾ ਸੀ। ਇਸ ਤਹਿਤ ਅਸਲਾ ਲਾਇਸੈਂਸ ਲੈਣ ਵਾਲਾ ਪ੍ਰਾਰਥੀ ਅਰਜ਼ੀ ਦੇਣ ਤੋ ਪਹਿਲਾਂ 10 ਬੂਟੇ ਲਾਵੇ ਅਤੇ ਇਨ੍ਹਾਂ ਬੂਟਿਆਂ ਦੀ ਸੰਭਾਲ ਕਰੇ ਅਤੇ ਇਨ੍ਹਾਂ ਦੀ ਪ੍ਰਗਤੀ ਸਬੰਧੀਂ ਸੈਲਫ਼ੀ ਲੈਕੇ ਆਪਣੀ ਅਰਜ਼ੀ ਨਾਲ ਨੱਥੀ ਕਰੇਗਾ। ਇਸ ਉਪਰੰਤ ਹੀ ਅਸਲਾ ਲਾਇਸੈਂਸ ਲੈਣ ਦੇ ਚਾਹਵਾਨ ਦੀ ਫਾਇਲ ਅੱਗੇ ਵਧਦੀ ਸੀ, ਜੋ ਕਿ ਅੱਜ ਤੱਕ ਫ਼ਿਰੋਜ਼ਪੁਰ ਜ਼ਿਲ੍ਹੇ ਵਿੱਚ ਲਾਗੂ ਹੈ।
ਸ੍ਰੀ ਚੰਦਰ ਗੈਂਦ ਦੇ ਅਹੁਦਾ ਸੰਭਾਲਣ ਦੌਰਾਨ ਤਹਿਸੀਲਦਾਰ ਸ. ਰਣਜੀਤ ਸਿੰਘ ਤੇ ਨਾਇਬ ਤਹਿਸੀਲਦਾਰ ਸ. ਪਵਨਦੀਪ ਸਿੰਘ ਸਮੇਤ ਡਵੀਜਨਲ ਕਮਿਸ਼ਨਰ ਦਫ਼ਤਰ ਦਾ ਸਮੁੱਚਾ ਅਮਲਾ ਹਾਜ਼ਰ ਸੀ।


ਫੋਟੋ ਕੈਪਸ਼ਨ-ਸੀਨੀਅਰ ਆਈ.ਏ.ਐਸ. ਅਧਿਕਾਰੀ ਸ੍ਰੀ ਚੰਦਰ ਗੈਂਦ ਪਟਿਆਲਾ ਵਿਖੇ ਡਵੀਜਨਲ ਕਮਿਸ਼ਨ ਵਜੋਂ ਆਪਣਾ ਅਹੁਦਾ ਸੰਭਾਲਣ ਸਮੇਂ। ਉਨ੍ਹਾਂ ਦੇ ਨਾਲ ਡਿਪਟੀ ਕਮਿਸ਼ਨਰ ਸ੍ਰੀ ਕੁਮਾਰ ਅਮਿਤ ਅਤੇ ਐਸ.ਐਸ.ਪੀ. ਸ. ਮਨਦੀਪ ਸਿੰਘ ਸਿੱਧੂ ਵੀ ਨਜ਼ਰ ਆ ਰਹੇ ਹਨ।

  • ਸੀਨੀਅਰ ਆਈ.ਏ.ਐਸ. ਅਧਿਕਾਰੀ ਸ੍ਰੀ ਚੰਦਰ ਗੈਂਦ ਪਟਿਆਲਾ ਵਿਖੇ ਡਵੀਜਨਲ ਕਮਿਸ਼ਨ ਵਜੋਂ ਆਪਣਾ ਅਹੁਦਾ ਸੰਭਾਲਣ ਤੋਂ ਪਹਿਲਾਂ ਗਾਰਡ ਆਫ਼ ਆਨਰ ਭੇਂਟ ਕੀਤੇ ਜਾਣ ਸਮੇਂ ਪੁਲਿਸ ਦੀ ਟੁਕੜੀ ਤੋਂ ਸਲਾਮੀ ਲੈਂਦੇ ਹੋਏ।
    -ਸੀਨੀਅਰ ਆਈ.ਏ.ਐਸ. ਅਧਿਕਾਰੀ ਸ੍ਰੀ ਚੰਦਰ ਗੈਂਦ ਪਟਿਆਲਾ ਵਿਖੇ ਡਵੀਜਨਲ ਕਮਿਸ਼ਨ ਵਜੋਂ ਆਪਣਾ ਅਹੁਦਾ ਸੰਭਾਲਣ ਤੋ ਬਾਅਦ ਗੁਰਦੁਆਰਾ ਸ੍ਰੀ ਦੁੱਖ ਨਿਵਾਰਨ ਸਾਹਿਬ ਅਤੇ ਮੰਦਿਰ ਸ੍ਰੀ ਕਾਲੀ ਦੇਵੀ ਵਿਖੇ ਨਤਮਸਤਕ ਹੋਣ ਸਮੇਂ।

प्रियंका किसकी बेटी हैं?

मैने कहा था न कि जो बाहर से पिटकर आता है वो घर में बच्चों को मारता है। तुमने प्रियंका गांधी की सुरक्षा छीनी और परिणामस्वरूप उन पर तुम्हारी पुलिस ने लखनऊ में हमला किया।प्रियंका किसकी बेटी हैं? राजीव की जिन्होंने अपनी सुरक्षा तुम्हारे गैंग के कहने से कम करने पर भी उफ नहीं की तथा मातृभूमि की बलि बेदी पर प्राणाहुति दे दी।तुमने प्रियंका को बुढ़िया कहने के बाद उसको बेटी कहने की बेशर्मी की तो उन्होंने तुम्हारी हैसियत बताते हुए कहा कि मै राजीव की बेटी हूं। जरा तुम मुह खोलकर कहो कि तुम किसके बेटे हो। डरते हो कि कहीं सरकारी कागजात न बोलने लगें कि तुम किसके बेटे हो।दरअसल #प्रियंका गांधी अब तुम्हारे भाड़े के विपक्षी किले को तोड़ने लगी हैं तो तुम्हारा तिलमिलाना लाजमी है। अभी प्रियंका गांधी ने तुमको अपना सिजरा बताया था कि मै #इंदिरा की पोती हूं। वो #इंदिरा जिसने अमरीका के #व्हाइट हाउस किले में घुसकर रिपब्लिकन #निक्सन को बताया था कि मै #जवाहर की बेटी हूं वो जवाहर जिसके बारे में 1957-58 मे #आईजनहोबर ने कहा थे खुद उनसे कि मै इस समय आपसे ज्यादा #सम्मानित नेता विश्व में नहीं पाता और वही #इंदिरा का शिकार निक्सन उस समय आइजनहावर का उपराष्ट्रपति था।#अब तुमने खंभा नोचा है #प्रियंका गांधी का निवास खाली करने का आदेश देकर। अरे कैकेई ने भी राम को निवास खाली करने का इंतजाम किया था जो चक्रवर्ती दशरथ की मृत्यु का कारण बना।ये वो #विरासत है जिसका निवास राजमहल छोड़कर जेल भी रहा है राम के वनवास की तरह जब तुम जेल भेजने वालों की चाकरी मुखबिरी करते थे। ये विरासत की लड़ाई है जो इतिहास बनाने और त्याग करने से बनती है खिसियाने से नहीं।इसलिए छोटीलाइन होकर बड़ी लाइन की रेल की बराबरी नहीं कर पाओगे चाहे जितनी ज्यादा इंजन की सीटी बजा लो। छोटे बनकर बड़े काम नहीं कर पाओगे, #प्रियंका की विरासत तुम्हारी विरासत को जीवनदान देने वाली है, न विश्वास हो तो अटल बिहारी के बयान याद कर लो जो राजीव के बारे मे क्या बोले थे कि राजीव ने उनका जीवन बचाया।सदन में नेहरू के खिलाफ तीखा भाषण देने पर अगर नेहरू खुद की जेल के समय #अटल बिहारी की ब्रिटिश हुकूमत से माफी मांगने की बात कह देते तो चढ़ता राजनीतिक कैरियर वहीं दफन हो जाता।इसलिए इन चक्करों में न पड़ो,चना जोर गरम बांटो।

प्रोजेक्ट साईवाल से देशी गाय के व्यवसाय को प्रोत्साहित करेगा गो सेवा आयोग

पंजाब में देशी गाय की नस्ल को प्रोत्साहित करते हुए पंजाब गो सेवा आयोग प्रोजेक्ट साईवाल की शुरूआत करने जा रहा है। साईवाल पंजाब की देशी नस्ल है और इस वक्त पंजाब में करीबन सवा तीन लाख साईवाल गाय हैं। पटियाला से गांव बख्शीवाल में सिद्धू फार्म में प्रोजेक्ट की शुरूआत करते हुए गो सेवा आयोग के चेयरमैन सचिन शर्मा ने कहा कि किसानों को पंजाबी की देशी गाय साईवाल रखने के प्रेरित किया जाएगा। इस प्रोजेक्ट के तहत गो सेवा आयोग साईवाल गाय की नस्ल बढ़ाने के लिए साईवाल नंदी और वीर्य की सुविधा किसानों को देगी। इसके अलावा जरूरत पड़ने पर साईवाल नस्ल रखने वालों को समय-समय पर डाक्टरी सहायता और अन्य सुविधा दी जाएगी।

चेयरमैन सचिन शर्मा ने कहा कि वर्तमान हालातों को देखते हुए जरूरी है कि लोगों को सेहत का अधिक ध्यान रखना होगा। साईवाल गाय के दूध की गुणवत्ता दूसरे पशुओं के दूध से कहीं बेहतर है। धार्मिक और वैज्ञानिक दृष्टि से गाय के दूध को बेहतर बताया गया है। इस वक्त पंजाब में करबीन 25 लाख देशी गाय की विभिन्न नस्लें हैं। प्रोजेक्ट साईवाल के तहत पंजाब के किसानों को दूसरी नस्ल के पशुओं की जगह साईवाल रखने के लिए जागरूक किया जाएगा। गो सेवा आयोग जल्द ही इस नस्ल का प्रचार करेगा। पटियाला के सिद्धू फार्म में किसान परिवार के युवा अमन खोखर और जसवंत सिंह को प्रोजेक्ट साईवाल से जोड़ते हुए आयोग की तरफ से हर सहायता का आश्वासन दिया गया। चेयरमैन सचिन शर्मा ने कहा कि जो साईवाल नस्ल को संभाल रहे है उनको दूसरे किसानों को भी इस नस्ल को रखने के लिए तैयार करना होगा।

Read in Punjabi

ਪ੍ਰੋਜੈਕਟ ਸਾਹੀਵਾਲ ਤਹਿਤ ਦੇਸੀ ਗਾਂ ਦੀ ਨਸਲ ਨੂੰ ਉਤਸ਼ਾਹਤ ਕਰੇਗਾ ਗਊ ਸੇਵਾ ਕਮਿਸ਼ਨ-ਸਚਿਨ ਸ਼ਰਮਾ
-ਗਊ ਸੇਵਾ ਕਮਿਸ਼ਨ ਨੇ ਪਿੰਡ ਬਖਸ਼ੀਵਾਲਾ ਦੇ ਕਿਸਾਨ ਅਮਨ ਕੌਰ ਤੇ ਜਸਵੰਤ ਸਿੰਘ ਨੂੰ ਸਾਹੀਵਾਲ ਪ੍ਰਾਜੈਕਟ ਨਾਲ ਜੋੜਿਆ
ਭਾਦਸੋਂ/ਪਟਿਆਲਾ, 1 ਜੁਲਾਈ:
ਪੰਜਾਬ ਰਾਜ ਗਊ ਸੇਵਾ ਕਮਿਸ਼ਨ ਦੇ ਚੇਅਰਮੈਨ ਸ੍ਰੀ ਸਚਿਨ ਸ਼ਰਮਾ ਨੇ ਕਿਹਾ ਹੈ ਕਿ ਪੰਜਾਬ ਰਾਜ ਗਊ ਸੇਵਾ ਕਮਿਸ਼ਨ ਪੰਜਾਬ ਵਿੱਚ ਦੇਸੀ ਗਾਂ ਦੀ ਨਸਲ ਨੂੰ ਉਤਸ਼ਾਹਤ ਕਰਨ ਲਈ ਕਮਿਸ਼ਨ ਛੇਤੀ ਹੀ ‘ਪ੍ਰਾਜੈਕਟ ਸਾਹੀਵਾਲ’ ਦੀ ਮੁਹਿੰਮ ਸ਼ੁਰੂ ਕਰਨ ਜਾ ਰਿਹਾ ਹੈ। ਸ੍ਰੀ ਸ਼ਰਮਾ ਨੇ ਕਿਹਾ ਕਿ ਸਾਹੀਵਾਲ ਪੰਜਾਬ ਰਾਜ ਦੀ ਦੇਸੀ ਨਸਲ ਹੈ ਅਤੇ ਮੌਜੂਦਾ ਸਮੇਂ ਸਵਾ 3 ਲੱਖ ਸਾਹੀਵਾਲ ਪਸ਼ੂ ਪੰਜਾਬ ਵਿਚ ਮੌਜੂਦ ਹੈ।
ਇੱਥੋਂ ਨੇੜਲੇ ਪਿੰਡ ਬਖਸੀਵਾਲ ਵਿੱਚ ਪ੍ਰਾਜੈਕਟ ਸਾਹੀਵਾਲ ਸ਼ੁਰੂ ਕਰਵਾਉਂਦਿਆਂ ਗਊ ਸੇਵਾ ਕਮਿਸ਼ਨ ਦੇ ਚੇਅਰਮੈਨ ਸ੍ਰੀ ਸਚਿਨ ਸ਼ਰਮਾ ਨੇ ਕਿਹਾ ਕਿ ਕਿਸਾਨਾ ਨੂੰ ਪੰਜਾਬ ਦੀ ਇਸ ਨਸਲ ਦਾ ਪਾਲਣ-ਪੋਸ਼ਣ ਕਰਨ ਲਈ ਉਤਸ਼ਾਹਤ ਕੀਤਾ ਜਾਵੇਗਾ। ਉਨ੍ਹਾਂ ਦੱਸਿਆ ਕਿ ਇਸ ਮੁਹਿੰਮ ਤਹਿਤ ਕਮਿਸ਼ਨ ਵੱਲੋਂ ਕਿਸਾਨਾਂ ਨੂੰ ਸਾਹੀਵਾਲ ਬਲਦ ਅਤੇ ਇਸਦਾ ਵੀਰਜ ਉਪਲਬਧ ਕਰਵਾਇਆ ਜਾਵੇਗਾ। ਇਸ ਤੋਂ ਬਿਨ੍ਹਾਂ ਇਸ ਨਸਲ ਦੀਆਂ ਗਾਵਾਂ ਰੱਖਣ ਵਾਲਿਆਂ ਨੂੰ ਕਮਿਸ਼ਨ ਵੱਲੋਂ ਸਮੇਂ-ਸਮੇਂ ‘ਤੇ ਪਸ਼ੂਆਂ ਦੇ ਡਾਕਟਰਾਂ ਦੀ ਸੁਵਿਧਾ ਵੀ ਉਪਲਬਧ ਕਰਾਈ ਜਾਏਗੀ।
ਚੇਅਰਮੈਨ ਸ੍ਰੀ ਸਚਿਨ ਸ਼ਰਮਾ ਨੇ ਕਿਹਾ ਕਿ ਮੌਜੂਦਾ ਹਲਾਤ ਦੇ ਮੱਦੇਨਜ਼ਰ ਇਹ ਜ਼ਰੂਰੀ ਹੈ ਕਿ ਲੋਕ ਆਪਣੀ ਸਿਹਤ ਦਾ ਧਿਆਨ ਰੱਖਣ ਇਸ ਲਈ ਸਾਹੀਵਾਲ ਗਊ ਦੇ ਦੁੱਧ ਦੀ ਗੁਣਵੱਤਾ ਬਾਕੀ ਪਸ਼ੂਆਂ ਦੇ ਦੁੱਧ ਤੋਂ ਕਿਤੇ ਜਿਆਦਾ ਵਧੀਆਹੈ। ਉਨ੍ਹਾਂ ਕਿਹਾ ਕਿ ਧਾਰਮਿਕ ਅਤੇ ਵਿਗਿਆਨਕ ਹੱਥਾਂ ‘ਚ ਵੀ ਗਊ ਦੇ ਦੁੱਧ ਨੂੰ ਉੱਤਮ ਮੰਨਿਆ ਗਿਆ ਹੈ। ਮੌਜੂਦਾ ਸਮੇਂ ‘ਚ ਪੰਜਾਬ ਰਾਜ ਵਿਚ ਕਰੀਬਨ ਪੱਚੀ ਲੱਖ ਦੇਸੀ ਗਊਆਂ ਦੀਆਂ ਅਲੱਗ-ਅਲੱਗ ਨਸਲਾਂ ਹਨ।
ਸ੍ਰੀ ਸ਼ਰਮਾ ਨੇ ਕਿਹਾ ਕਿ ਪਰੋਜੈਕਟ ਸਾਹੀਵਾਲ ਸ਼ੁਰੂ ਕਰਦੇ ਹੋਏ ਪੰਜਾਬ ਦੇ ਕਿਸਾਨਾਂ ਨੂੰ ਦੁੱਧ ਵਾਸਤੇ ਪਸ਼ੂਆਂ ਦੀ ਥਾਂ ਤੇ ਇਸ ਨਸਲ ਦੇ ਗਾਉਣ ਨੂੰ ਰੱਖਣ ਲਈ ਜਾਗਰੂਕ ਕੀਤਾ ਜਾਵੇਗਾ। ਉਨ੍ਹਾਂ ਕਿਹਾ ਕਿ ਗਊ ਸੇਵਾ ਆਯੋਗ ਪੰਜਾਬ ਵਿਚ ਇਸ ਨਸਲ ਦਾ ਜਲਦੀ ਹੀ ਪ੍ਰਚਾਰ ਸ਼ੁਰੂ ਕਰੇਗਾ।
ਚੇਅਰਮੈਨ ਸ੍ਰੀ ਸ਼ਰਮਾ ਨੇ ਪਟਿਆਲਾ ਦੇ ਪਿੰਡ ਬਖਸ਼ੀਵਾਲਾ ‘ਚ ਕਿਸਾਨ ਪਰਿਵਾਰ ਨਾਲ ਸੰਬੰਧਤ ਅਮਨ ਕੌਰ ਅਤੇ ਜਸਵੰਤ ਸਿੰਘ ਨੂੰ ਇਸ ਪ੍ਰੋਜੈਕਟ ਨਾਲ ਜੋੜਦਿਆਂ ਗਊ ਸੇਵਾ ਆਯੋਗ ਵੱਲੋਂ ਹਰ ਮੱਦਦ ਦੇਣ ਦਾ ਭਰੋਸਾ ਦਿਵਾਇਆ। ਉਨ੍ਹਾਂ ਨੇ ਕਿਹਾ ਕਿ ਜੋ ਕਿਸਾਨ ਇਸ ਨਸਲ ਦੀ ਗਊ ਨੂੰ ਸੰਭਾਲ ਰਹੇ ਹਨ ਉਹ ਦੂਜੇ ਕਿਸਾਨਾਂ ਨੂੰ ਵੀ ਇਹ ਨਸਲ ਰੱਖਣ ਲਈ ਜਾਗਰੂਕ ਕਰਨ।

जल्द ही 4000 नई भर्ती सेहत विभाग में की जाएंगी-बलबीर सिंह सिद्दू

मिशन फतेह की कामयाबी के लिए डॉक्टरों के समेत और 4000 नई भर्ती की जाएगी। बलबीर सिंह सिद्दू -सेहत मंत्री सिद्धू की तरफ से राजपुरा में 6 करोड़ की लागत बच्चों का हॉस्पिटल लोगों को समर्पित- सेवाएं होंगी कंप्यूटराइज, मुफ्त दवाइयां देने का वादा जल्दी होगा पूरा – सेहत मंत्री सारे सरकारी हॉस्पिटल व सीटी स्कैन और अल्ट्रासाउंड सेवाएं जल्द ही लागू की जाएंगी।

Patiala Postal Division has also celebrated International Yoga Day on 21st June

Patiala, 21 June 2020: Since 2015, Yoga Day is being celebrated on 21st June every year.  The objective of observing the International Yoga day is to make the people aware of benefits of yoga and to build enduring public interest and highlighting its importance and contributions to public health.

This year, due to contagious nature of COVID-19, numerous restrictions exist with respect of mass gatherings and movement to avoid its spread.  Due to this, the Ministry of AYUSH, Government of India is encouraging people to learn about Yoga from the safety of their homes through various resources made available online at Yoga portal along with other social media platforms.

Ms. Aarti Verma, SSPOs Patiala told that Patiala Postal Division has also celebrated International Yoga Day on 21st June for the physical and mental wellbeing of the employees and their families from Home at 0700 am online through Webex especially improving immunity in COVID-19 situation. 

Dr. Chandra Kant Mishra, Yoga Guru from NSNIS Patiala has also become part of this celebration and shared his views about the importance of Yoga in day-to-day life. Besides promoting yoga amongst friends and family, staff also stands together in solidarity globally at 0700 a.m. on 21st June by collectively doing yoga from their homes.

Read in Hindi

वर्ष 2015 से हर साल 21 जून को योग दिवस मनाया जाता है। अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस को मनाने का उद्देश्य लोगों को योग के लाभों के बारे में जागरूक करना और सार्वजनिक हित का निर्माण करना और इसके महत्व और सार्वजनिक स्वास्थ्य में योगदान पर प्रकाश डालना है।

इस वर्ष, COVID-19 की संक्रामक प्रकृति के कारण, इसके प्रसार से बचने के लिए सामूहिक समारोहों और आवाजाही के संबंध में कई प्रतिबंध मौजूद हैं। इसके कारण, भारत सरकार का आयुष मंत्रालय, लोगों को अपने सोशल मीडिया प्लेटफार्मों के साथ योग पोर्टल पर ऑनलाइन उपलब्ध कराए गए विभिन्न संसाधनों के माध्यम से अपने घरों में सुरक्षा से योग के बारे में जानने के लिए प्रोत्साहित कर रहा है।

सुश्री आरती वर्मा, प्रवर अधीक्षक डाकघर, पटियाला ने बताया कि पटियाला पोस्टल डिवीजन द्वारा भी 21 जून को अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस मनाया गया, जो कि कर्मचारियों और उनके परिवारों के शारीरिक और मानसिक स्वास्थ्य की देखभाल के लिए घर से सुबह 0700 बजे ऑनलाइन वेबबेक्स के माध्यम से विशेष रूप से COVID-19की स्थिति में रोग प्रतिरोधक शक्ति में सुधार करता है।

एनएसएनआईएस पटियाला के योग गुरु डॉ. चन्द्र कांत मिश्रा भी इस उत्सव का हिस्सा बने हैं और उन्होंने दिन-प्रतिदिन के जीवन में योग के महत्व के बारे में अपने विचार साझा किए। दोस्तों और परिवार के बीच योग को बढ़ावा देने के अतिरिक्त, सभी कर्मचारीयों द्वारा 21 जून को सुबह 0700 बजे विश्व स्तर पर एकजुटता के प्रदर्शन के साथ अपने घरों से सामूहिक रूप से योग किया ।

Read in Punjabi

ਪਟਿਆਲਾ ਡਾਕ ਵਿਭਾਗ ਨੇ ਵੈਬੇਕਸ ਰਾਹੀਂ ਅੰਤਰ-ਰਾਸ਼ਟਰੀ ਯੋਗ ਦਿਵਸ ਮਨਾਇਆ
-ਕਰਮਚਾਰੀਆਂ ਨੇ ਆਪਣੇ ਘਰਾਂ ਤੋਂ ਸਮੂਹਿਕ ਤੌਰ ‘ਤੇ ਯੋਗ ਕਰਕੇ ਵਿਸ਼ਵ ਵਿਆਪੀ ਏਕਤਾ ਦਾ ਪ੍ਰਗਟਾਵਾ ਕੀਤਾ-ਆਰਤੀ ਵਰਮਾ
ਪਟਿਆਲਾ, 21 ਜੂਨ
ਪਟਿਆਲਾ ਡਾਕ ਵਿਭਾਗ ਨੇ ਅੱਜ ਵੈਬੇਕਸ ਰਾਹੀਂ ਅੰਤਰ-ਰਾਸ਼ਟਰੀ ਯੋਗ ਦਿਵਸ ਮਨਾਇਆ। ਇਸ ਬਾਰੇ ਜਾਣਕਾਰੀ ਦਿੰਦਿਆਂ ਸੀਨੀਅਰ ਸੁਪਰਡੈਂਟ ਆਫ਼ ਪੋਸਟ ਪਟਿਆਲਾ ਮਿਸ ਆਰਤੀ ਵਰਮਾ ਨੇ ਦੱਸਿਆ ਕਿ 2015 ਤੋਂ, ਯੋਗ ਦਿਵਸ ਹਰ ਸਾਲ 21 ਜੂਨ ਨੂੰ ਮਨਾਇਆ ਜਾ ਰਿਹਾ ਹੈ ਪਰੰਤੂ ਇਸ ਵਾਰ ਕੋਵਿਡ-19 ਕਰਕੇ ਵਿਸ਼ਾਲ ਇਕੱਠਾਂ ਅਤੇ ਆਵਾਜਾਈ ਸਬੰਧੀਂ ਲੱਗੀਆਂ ਪਾਬੰਦੀਆਂ ਹੋਈਆਂ ਹਨ, ਜਿਸ ਕਰਕੇ ਪਟਿਆਲਾ ਡਾਕ ਵਿਭਾਗ ਨੇ ਸਵੇਰੇ 7 ਵਜੇ ਤੋਂ ਆਪਣੇ ਕਰਮਚਾਰੀਆਂ ਅਤੇ ਉਨ੍ਹਾਂ ਦੇ ਪਰਿਵਾਰਾਂ ਦੀ ਸਰੀਰਕ ਅਤੇ ਮਾਨਸਿਕ ਤੰਦਰੁਸਤੀ ਲਈ ਅੰਤਰ-ਰਾਸ਼ਟਰੀ ਯੋਗਾ ਦਿਵਸ ਆਪਣੇ ਘਰਾਂ ਅੰਦਰ ਹੀ ਮਨਾਇਆ।
ਮਿਸ ਆਰਤੀ ਵਰਮਾ ਨੇ ਕਿਹਾ ਕਿ ਯੋਗ ਦੇ ਲਾਭਾਂ ਬਾਰੇ ਆਮ ਲੋਕਾਂ ਨੂੰ ਜਾਗਰੂਕ ਕਰਨਾਂ ਅਤੇ ਲੋਕ ਹਿਤਾਂ ਦੇ ਮੱਦੇਨਜ਼ਰ ਆਯੂਸ਼ ਮੰਤਰਾਲਾ ਵੀ ਇਹ ਦਿਸ਼ਾ ਨਿਰਦੇਸ਼ ਦਿੰਦਾ ਹੈ ਕਿ ਸੋਸ਼ਲ ਮੀਡੀਆ ਪਲੇਟਫਾਰਮਾਂ ਦੇ ਜਰੀਏ ਯੋਗਾ ਪੋਰਟਲ ‘ਤੇ ਆਨਲਾਈਨ ਉਪਲਬਧ ਕਰਵਾਏ ਗਏ ਵੱਖ-ਵੱਖ ਸਰੋਤਾਂ ਰਾਹੀਂ ਲੋਕ ਵੱਧ ਤੋਂ ਵੱਧ ਆਪਣੇ ਘਰਾਂ ਵਿੱਚ ਸੁਰੱਖਿਅਤ ਰਹਿ ਕੇ ਹੀ ਯੋਗ ਬਾਰੇ ਸਿੱਖਣ।
ਮਿਸ ਆਰਤੀ ਨੇ ਦੱਸਿਆ ਕਿ ਇਸ ਦੌਰਾਨ ਐਨ.ਆਈ.ਐਸ. ਪਟਿਆਲਾ ਤੋਂ ਯੋਗ ਗੁਰੂ ਡਾ. ਚੰਦਰ ਕਾਂਤ ਮਿਸ਼ਰਾ ਨੇ ਕਰਮਚਾਰੀਆਂ ਨਾਲ ਉਨ੍ਹਾਂ ਦੀ ਰੋਜ਼ਮਰ੍ਹਾ ਦੀ ਜਿੰਦਗੀ ਵਿੱਚ ਯੋਗ ਦੀ ਮਹੱਤਤਾ ਬਾਰੇ ਆਪਣੇ ਵਿਚਾਰ ਸਾਂਝੇ ਕੀਤੇ। ਇਸ ਤੋਂ ਇਲਾਵਾ ਆਪਣੇ ਦੋਸਤਾਂ ਅਤੇ ਪਰਿਵਾਰਕ ਮੈਂਬਰਾਂ ਨੂੰ ਯੋਗਾ ਪ੍ਰਤੀ ਉਤਸ਼ਾਹਤ ਕਰਨ ਸਮੇਤ ਕਰਮਚਾਰੀਆਂ ਨੇ ਅੱਜ ਆਪਣੇ ਘਰਾਂ ਤੋਂ ਸਮੂਹਿਕ ਤੌਰ ‘ਤੇ ਯੋਗ ਕਰਕੇ ਵਿਸ਼ਵ ਵਿਆਪੀ ਏਕਤਾ ਦਾ ਪ੍ਰਗਟਾਵਾ ਕੀਤਾ।